Breaking NewsEducationGohanaPatriotismReligionSocial

भगत फूल सिंह की जयंती पर महिला विश्वविद्यालय की वी.सी. ने की घोषण “गुरुकुल परंपरा और भगत फूल सिंह जी का दर्शन” पर क्रेडिट आधारित 2 एड ऑन कोर्स शुरू होंगे

 

गोहाना :-24 फरवरी : भगत फूल सिंह के जीवन चरित्र और उनके त्याग की अवधारणा को आम जनमानस तक पहुंचाने के लिए नई शिक्षा नीति-2020 के तहत “गुरुकुल परंपरा और भगत फूल सिंह जी का दर्शन” विषयक दो क्रेडिट आधारित एड ऑन कोर्स शुरू किये जाएंगे।

यह घोषणा शनिवार बी. पी. एस. महिला विश्वविद्यालय की वी.सी. प्रो सुदेश ने की। अवसर भगत फूल सिंह की जयंती का था। महिला विश्वविद्यालय के पुरोधा की जयंती पर यज्ञशाला में हवन हुआ। इस में वी.सी. प्रौ सुदेश तथा उनके पति प्रो हवा सिंह ने मुख्य यजमान रहे। बहन शकुंतला देवीं ने पूरे विधि-विधान से यज्ञ संपन्न कराया।

प्रो सुदेश ने कहा कि महिला विश्वविद्यालय मात्र शिक्षण संस्थान ही नहीं, बल्कि महान शिक्षाविद भगत फूल सिंह की तपोस्थली है। यह विश्वविद्यालय उनके बलिदान और उनकी प्रेरणा से नारी शिक्षा व सशक्तिकरण में जन भागीदारी का जीवंत उदाहरण है।

वी.सी. प्रो सुदेश ने कहा कि नारी शिक्षा और सशक्तिकरण के उद्देश्य को पूरा करने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन लगातार प्रयत्नशील है। उन्होंने कहा कि भगत फूल सिंह और बहन सुभाषिनी देवी के विचार व नारी शिक्षा में योगदान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए उनसे जुड़े संस्मरणों का दस्तावेजीकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। इसी उद्देश्य के साथ विश्वविद्यालय में बहन सुभाषिनी देवी शोध पीठ की स्थापना की जा रही है।

इस अवसर पर बहन शकुंतला देवी ने भी भगत फूल सिंह के जीवन से जुड़ी यादें साझा की। इस अवसर पर बहन कमला, ज्ञानवती, ब्रह्म वती, साहिब कौर, डॉ. नीलम मलिक आदि भी उपस्थित रहीं।

Khabar Abtak

Related Articles

Back to top button