State

फिरोजपुर झिरका से कांग्रेस विधायक को बड़ा झटका ; सरकार ने मामन खान की पुलिस सुरक्षा ली वापिस ; विधायक ने बताया अपनी जान को खतरा, बोले धमकियां मिल रही हैं।

हरियाणा में नूंह हिंसा को लेकर चर्चा में आए फिरोजपुर झिरका से कांग्रेस के विधायक मामन खान को बड़ा झटका लगा है। सरकार ने कांग्रेस विधायक की पुलिस सुरक्षा वापस ले ली है। सरकार ने 3 अगस्त को इस संबंध में आदेश जारी किए थे, वहीं सुरक्षा हटाए जाने के बाद कांग्रेस विधायक ने अपनी जान को खतरा बताया है। उन्होंने कहा है कि उन्हें कई नंबरों से धमकियां मिल रही हैं।

पुलिस सुरक्षा को लेकर मामन खान ने हरियाणा DGP, CID चीफ और गुरुग्राम के पुलिस कमिश्नर को चिट्ठी लिखी है।

नूंह हिंसा भड़काने में आ रहा नाम
31 जुलाई को ब्रज मंडल यात्रा के दौरान हुई धार्मिक हिंसा से विधायक मामन खान का नाम भी जोड़ा जा रहा है। बीजेपी नेता रमणीक सिंह मान सहित अन्य नेता सोशल मीडिया पर मामन खान को हिंसा के लिए उकसाने का आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस MLA मामन खान का यह वायरल वीडियो इसी साल फरवरी महीने का है। उस वक्त हरियाणा विधानसभा में बजट सत्र चल रहा था। सत्र के दौरान मामन खान ने राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए थे।

2022 में करा चुके हैं FIR
कांग्रेस विधायक मामन खान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं और गौ रक्षकों पर उन्हें जान से मारने की धमकी देकर अगस्त, 2022 में एक FIR भी दर्ज करवा चुके हैं। साथ ही डीजीपी, सीआईडी प्रमुख और मुख्यमंत्री समेत गृह मंत्री से भी शिकायत करके आरोपियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

विधायक ने मोनू पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया
वीडियो में मामन खान ने विधानसभा में गुरुग्राम के गौरक्षक मोनू मानेसर पर सवाल खड़े कर रहे हैं। उन्होंने मोनू पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया। विधायक ने मोनू की हथियारों और भाजपा नेताओं के साथ वीडियो भी दिखाई। इस दौरा मामन खान की भाजपा के पटौदी से MLA सत्यप्रकाश जरावता से बहस हुई। जिसके बाद मामन खान ने विधायक जरावता और मोनू मानेसर को मेवात आने की चुनौती दी। इसी दौरान वह कुछ आपत्तिजनक बातें भी बोल गए थे।

Khabar Abtak

Related Articles

Back to top button