Breaking NewsCrimeDelhi

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली शराब नीति केस में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को किया गिरफ्तार

दिल्ली :-21 मार्च : प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली शराब नीति केस में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। ED की टीम गुरुवार शाम 7 बजे केजरीवाल के घर 10वां समन और सर्च वारंट लेकर पहुंची थी।

2 घंटे की तलाशी और पूछताछ के बाद केजरीवाल गिरफ्तार

शाम 7:00 बजे – ED की टीम अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची।

शाम 7:30 बजे- आप नेता सौरभ भारद्वाज को केजरीवाल के घर के अंदर जाने से रोका गया।

शाम 8:00 बजे- राघव चड्ढा बोले, केजरीवाल को अरेस्ट करने की साजिश ।

रात 8:01 बजे – केजरीवाल के घर के बाहर सुरक्षा इंतजाम बढ़ाए RAF की टीम भी पहुंची।

रात 8:10 बजे- केजरीवाल के फोन को ईडी ने जब्त किया।

रात 8:20 बजे- केजरीवाल आवास के बाहर AAP कार्यकर्ता और नेता जुटे । नारेबाजी शुरु |

रात 8:30 बजे- केजरीवाल के घर के बाहर धारा 144 लगाई गई।

रात 8:47 बजे – नारेबाजी कर रहे AAP नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया।

रात 9:00 बजे- दो घंटे पूछताछ के बाद ED ने अरविंद केजरीवाल को अरेस्ट किया।

जांच एजेंसी ने दो घंटे तक पूछताछ के बाद रात 9 बजे यह कार्रवाई की। इस मामले में पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया 13 महीने और AAP नेता संजय सिंह 6 महीने से जेल में हैं।

इस बीच दिल्ली की मंत्री आतिशी ने कहा कि केजरीवाल दिल्ली के सीएम बने रहेंगे। जेल से सरकार चलाएंगे। इधर, केजरीवाल की लीगल टीम ने सुप्रीम कोर्ट में अपील कर फौरन सुनवाई की मांग की।

केजरीवाल गिरफ्तार होने वाले पहले सिटिंग सीएम हैं। इससे पहले झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन को ED ने गिरफ्तार किया था। सोरेन ने ED की हिरासत में राजभवन जाकर इस्तीफा दिया था।

हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी से राहत देने से इनकार कर दिया
इससे पहले गुरुवार को दोपहर 2.30 बजे हाईकोर्ट ने दिल्ली सीएम की गिरफ्तारी पर रोक लगाने वाली याचिका खारिज कर दी।

केजरीवाल ने कोर्ट से ये भरोसा मांगा था कि अगर वे पूछताछ के लिए ED जाते हैं तो उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाए। कोर्ट ने साफ किया कि केजरीवाल को ईडी के सामने पेश होना होगा, उनकी गिरफ्तारी पर रोक नहीं है।

इस से पहले ED ने केजरीवाल को 17 मार्च को 9वां समन भेजा था। केजरीवाल 19 मार्च को समन के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचे थे। उनकी याचिका पर 20 मार्च को सुनवाई हुई थी। कोर्ट ने बार-बार समन भेजने को लेकर ED को तलब किया।

शराब नीति केस में केजरीवाल को इस साल 27 फरवरी, 26 फरवरी, 22 फरवरी, 2 फरवरी, 17 जनवरी, 3 जनवरी और 2023 में 21 दिसंबर और 2 नवंबर को समन भेज गया था। हालांकि, वे एक बार भी पूछताछ के लिए नहीं गए।

Khabar Abtak

Related Articles

Back to top button