Breaking NewsCrimeGohana

गोहाना में हरियाणा पुलिस के कॉन्स्टेबल की छाती में गोली मारकर हत्या : ड्यूटी देकर घर के लिए निकला था,सड़क किनारे खून से लथपथ शव मिला ; कार-मोबाइल गायब

गोहाना :-12 फरवरी : हरियाणा के गोहाना में सोमवार रात (12 फरवरी) हेड कॉन्स्टेबल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। रूखी गांव के पास उसका शव खून से लथपथ हालत में मिला। प्रमोद ड्यूटी करने के बाद जसिया गांव जा रहा था। रास्ते में बदमाशों ने उसकी छाती में गोली मार दी। इसके बाद बदमाश प्रमोद की कार और मोबाइल लेकर फरार हो गए।

सूचना पाकर ACP सोमबीर, बरोदा थाना SHO रमेश चंद्र व फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धारा 302 IPC एवं 25-54-59 आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। शव को महिला मेडिकल कॉलेज खानपुर भिजवाया गया है।

मोहाना थाना में थी ड्यूटी
रोहतक के जसिया गांव के रहने वाले कर्मबीर ने पुलिस को बताया कि उसके चाचा का लड़का प्रमोद हरियाणा पुलिस में हेड कॉन्स्टेबल था। उसकी ड्यूटी मोहाना थाना में थी। रात को उसे भैंसवान खुर्द पुलिस चौकी से फोन आया कि उसके चचेरे भाई प्रमोद की गांव रूखी से थोड़ा आगे नीलकंठ ढाबा के पास किसी व्यक्ति ने गोली मार कर हत्या कर दी है।

सूचना पाकर वह परिवार के अन्य लोगों के साथ मौके पर पहुंचा। वहां प्रमोद का शव रोड किनारे पड़ा था। उसकी छाती में गोली लगी थी।

पुलिस को लूट की आशंका
पुलिस के अनुसार, प्रमोद रात को 11 बजे के करीब मोहाना थाना से जसिया गांव जाने के लिए अपनी कार लेकर निकला था। रात को उसका शव करीब 12 किलोमीटर दूर मिला। पुलिस को मौके पर न तो उसकी कार मिली है और न ही मोबाइल। पुलिस को प्रारंभिक जांच में लूटपाट की आशंका लग रही है।

4 साल पहले हुई थी 2 पुलिसकर्मियों की हत्या
4 साल पहले सोनीपत के बरोदा थाना क्षेत्र में 2 पुलिस कर्मचारियों की हत्या हो गई थी। बुटाना पुलिस चौकी से गश्त पर निकले एसपीओ कप्तान व सिपाही रवींद्र की चौकी से 800 मीटर दूर तेजधार हथियार से हत्या कर दी गई। हालांकि बाद में पुलिस ने जींद में मुठभेड़ में एक बदमाश को मार गिराया था। मुठभेड़ में 2 इंस्पेक्टर सहित 4 पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे।

एसपीओ कप्तान व सिपाही रविंद्र ने शराब पी रहे अमित व इसके साथियों को देख लिया था। दोनों ने आरोपियों को शराब पीने से मना किया तो बदमाशों ने तेजधार हथियार से हत्या कर दी। देर शाम पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी को लेकर रेड की। तभी आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस ने भी बचाव में गोली चलाई, जिसमें आरोपी अमित की मौत हो गई। जबकि संदीप को पकड़ लिया गया। आरोपी अमित जो मारा गया, यह अपराधी था।

Khabar Abtak

Related Articles

Back to top button