Breaking NewsEducationGohanaSocial

गोहाना के सरस्वती विद्या निकैतन ने मनाया अपना वार्षिकोत्सव

अंग्रेजियत नहीं, संस्कारों पर जोर देगी नई शिक्षा नीति

गोहाना :-25 फरवरी : पटेल बस्ती के सरस्वती विद्या निकैतन का वार्षिकोत्सव रविवार को आयोजित हुआ। मुख्य वक्ता और गीता विद्या मंदिर के प्रिंसिपल अश्विनी कुमार ने कहा कि नई शिक्षा नीति अंग्रेजियत नहीं, संस्कारों पर जोर देगी। उन्होंने स्मरण करवाया कि बच्चे भाषण से नहीं, व्यवहार देखकर सीखते हैं।

अध्यक्षता विद्यालय प्रबंधन समिति के उपाध्यक्ष परमानंद लोहिया ने की। वह गीता विद्या मंदिर के अध्यक्ष भी हैं। मुख्य अतिथि बाल भारती विद्यापीठ के एम. डी. हरिप्रकाश गौड़, विशिष्ट अतिथि संस्कार भारती के सचिव कुलदीप चहल, लोक कलाकार मनोज जाले और भारत विकास परिषद की गोहाना इकाई के अध्यक्ष ललित गोयल थे। दिग्दर्शन एम. डी. शशिकांत गोयल तथा संयोजन प्रधानाचार्य दिव्यांशु गोयल ने किया।

कक्षा 3 से 8 के अपनी-अपनी कक्षाओं के टॉप-3 विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। इनमें तृतीय कक्षा 8 के अंशुल खासा, स्वीटी और निशु मित्तल, कक्षा 7 से समीक्षा, इशिका व निष्ठा, कक्षा 6 से अभिनव, नमित
अनन्या जैन, कक्षा 5 से देव आर्य, यशस्वी व दीक्षा, कक्षा 4 से खुशबू, नव्या सैनी व अरमान तथा कक्षा 3 से किंजल, सिद्धार्थ व यश थे। इसके साथ संस्कृति ज्ञान प्रश्नमंच, कक्षा सज्जा प्रतियोगिता, हेडगेवार टैलेंट सर्च एग्जामिनेशन के विजेता बच्चों को भी पुरस्कृत किया गया। लोहिया ने कहा कि बिना संस्कार साक्षर राक्षस हो सकता है, इसलिए अंक व अक्षर ज्ञान के साथ शिष्टाचरण की शिक्षा जरूरी है।

इस अवसर पर राकेश गंगाना, सत्यनारायण शर्मा, संजय गर्ग, मीना यादव, सुमित सैनी, कमलेश भाटिया, मनीषा आर्या, शशि शर्मा, पूनम गोयल आदि उपस्थित रहे।

Khabar Abtak

Related Articles

Back to top button